Scientific Reason (वैज्ञानिक कारण) with Details Solution For Railway Exam 2018

Scientific Reason (वैज्ञानिक कारण) with Details Solution For Railway Exam 2018

Hello friends,
Today we are sharing Scientific Reason (वैज्ञानिक कारण) with Details Solution For Railway Exam 2018. You may read  it from the post  provided below

प्रश्न- पानी में डूबी हुई वस्तु हल्की क्यों प्रतीत होती है ?

उत्तर- जब कोई वस्तु पानी में डुबाई जाती है, तो उस वस्तु को पानी ऊपर की ओर उछालता है. इस उछाल के कारण ही वस्तु हल्की प्रतीत होती है.

प्रश्न- लोहे का बना जहाज पानी पर क्यों तैरता है ?

उत्तर- जहाज लोहे की चादर का इस प्रकार बनाया जाता है कि इसके अन्दर काफी खाली जगह होती है. इस कारण इसके थोड़े ही डूबे भाग द्वारा हटाये गये पानी का भार, जहाज, यात्रियों और सामान आदि के भार के बराबर हो जाता है, अतः लोहे का बना जहाज पानी पर तैरता है.

प्रश्न–सोखता स्याही क्यों सोखता है ?

उत्तर- स्याही सोखते का कार्य केशिका क्रिया (Capillary action) पर निर्भर करता है, स्याही सोखता सरन्ध्र (Porous) होता है. जब इसे गीली स्याही पर रखते हैं, तो स्याही इसके महीन छेदों में होकर केशिका क्रिया द्वारा अवशोषित हो जाती है.

प्रश्न- एक नाव पर नदी की तुलना में समुद्र में अधिक बोझ लादा जा सकता है. क्यों ?

उत्तर-नदी के पानी का घनत्व समुद्र के पानी के घनत्व की अपेक्षा कम होता है, जिसके कारण नदी में नाव पर कम उछाल होता है, जबकि समुद्र के पानी का घनत्व अधिक होने के कारण अधिक उछाल होता है, अतः नाव में नदी की तुलना में समुद्र में अधिक बोझा लादा जा सकता है।

प्रश्न–एक हाथ में पानी की बाल्टी ले जाने पर दूसरा हाथ बाहर की ओर उठाना पड़ता है, क्यों ?

उत्तर – जब किसी वस्तु के गुरुत्व केन्द्र से जाने वाली भार की कार्य रेखा उसके आधार क्षेत्रफल में से गुजरती है, तो वह वस्तु सन्तुलन में रहती है. अतः दूसरा हाथ बाहर की ओर उठाने में सन्तुलन बना रहता है, क्योंकि ऐसा करने से मनुष्य के गुरुत्व केन्द्र से जाने वाली उसके भार की कार्य रेखा उसके पैरों के आधार के क्षेत्रफल से गुजरती है और उसका सन्तुलन बना रहता है. 

प्रश्न- बर्फ का टुकड़ा पानी पर तैरता है, क्यों ?

उत्तर- जब पानी बर्फ बनता है, तो आयतन में बढ़ जाता है तथा बर्फ का घनत्व कम हो जाता है. अतः बर्फ का घनत्व पानी के घनत्व से कम होने के कारण वह पानी | पर तैरता है.

प्रश्न-वायुमण्डल में बहुत अधिक ऊपर जाने से रक्त नलिकाओं के फटने का डर रहता है, क्यों ?

उत्तर — वायुमण्डल में बहुत अधिक ऊपर जाने पर वायु का दाब कम हो जाता है और रक्त नलिकाओं में रक्त द्वारा अधिक दाब होता है. अतः उनके फटने का डर रहता है।

प्रश्न- पहाड़ों पर चढ़ते समय मनुष्य आगे की ओर झुक जाता है, क्यों ?

उत्तर-जब मनुष्य पहाड़ पर चढ़ता है, | तो सन्तुलन को बनाए रखने के लिए वह आगे झुक जाता है, आगे झुकने से उसके गुरुत्व केन्द्र से जाने वाली भार की कार्य रेखा उसके पैरों के बीच से होकर गुजरती हैं. अतः उसका सन्तुलन बना रहता है.

प्रश्न- किसी वस्तु को हवा में उठाने | की अपेक्षा पानी में उठाना आसान होता है, क्यों ? 

उत्तरआर्कमिडीज के सिद्धान्तानुसार जब किसी वस्तु को किसी द्रव में डुबोते हैं, तो उसके भार में कमी आ जाती है, यह कमी उस वस्तु द्वारा हटाए गए द्रव के भार के बराबर होती है, अतः किसी वस्तु को हवा में उठाने की अपेक्षा पानी में उठाना आसान होता है ।

प्रश्न- विमान पर चढ़ने से पहले पैन | की स्याही निकाल देने की सलाह दी जाती | है, क्यों ? अथवा ऊँचे पर्वत पर फाउन्टेन | पेन से स्याही क्यों रिसने लगती है ?

उत्तर-ऊँचाई पर विमान के उड़ने से वायु दाब कम हो जाता है. अतः पैन की स्याही बाहर निकलने लगती है और कपड़े खराब होने का भय रहता है, इसलिए विमान पर चढ़ने से पहले पैन की स्याही निकालने की सलाह दी जाती है,

प्रश्न-चलती हुई ट्रेन से उतरते समय व्यक्ति को थोड़ी दूर तक ट्रेन के चलने की दिशा में ही दौड़ना पड़ता है, क्यों ?

उत्तर – जब मनुष्य चलती ट्रेन से उतरता है, तो उसके शरीर का ऊपरी भाग तो ट्रेन के वेग से उसी दिशा में गतिमान रहता है, परन्तु पैर नीचे रखने पर स्थिर अवस्था में आ जाते हैं, अतः मनुष्य के आगे की ओर गिरने की सम्भावना रहती है. अतः मनुष्य अपने शरीर के सम्पूर्ण भाग का वेग और दिशा समान रखने के लिए वह ट्रेन के साथ थोड़ी दूर तक भागता है तथा वह | आगे गिरने की सम्भावना से बच जाता है,

प्रश्न — क्या कारण है कि शुद्ध आयोडीन, पानी की अपेक्षा कार्बन टेट्राक्लोराइड | में अधिक विलेय है ?

उत्तर – आयोडीन अपने बहुबन्ध गुण (Covalent character) के कारण पानी की अपेक्षा कार्बन टेट्राक्लोराइड (CCIA) में अधिक विलेय है..

प्रश्न- क्या कारण है कि पीने का पानी क्लोरीन युक्त होता है ?

उत्तर- क्लोरीन कीटाणुनाशक होती है. अतः पीने के पानी को कीटाणुविहीन करने के लिए क्लोरीन का प्रयोग किया जाता है.

प्रश्न- क्या कारण है कि नाइट्रिक ऑक्साइड का रंग वायु में खुला छोड़ने पर ब्राउन (Brown) हो जाता है ?

उत्तर-जब नाइट्रिक ऑक्साइड (NO) | को वायु में खुला छोड़ दिया जाता है, तो वह वायु की ऑक्सीजन से संयोग कर नाइट्रोजन ऑक्साइड में परिवर्तित हो जाता है जिसका रंग ब्राउन होता है. अतः नाइट्रिक ऑक्साइड को खुला छोड़ने पर उसका रंग ब्राउन हो जाता है.

प्रश्न-अंधेरे में उगने वाला पौधा प्रायः लम्बा, पतला तथा पीले रंग का क्यों हो जाता है ?

उत्तर- अंधेरे में उगने वाले पौधे को सूर्य का प्रकाश नहीं मिलता है, फलतः प्रकाश के अभाव में प्रकाश-संश्लेषण (Photosynthesis) की क्रिया नहीं होती है। जिससे नए भोज्य पदार्थ का निर्माण नहीं | होता है, जो भोजन पहले से उपलब्ध होता | है, वह पौधे की वृद्धि में उपयुक्त होता है, पत्तियों का हरा रंग क्लोरोफिल के कारण होता है. प्रकाश न मिलने के कारण क्लोरोफिल पीले रंग में अर्थात् जैन्थोफिल में बदल जाता है. अतः अंधेरे में पौधा लम्बा, पतला तथा पीले रंग का हो जाता है,

प्रश्न- ठंडे मौसम में पानी के पाइप | फट जाते हैं, क्यों ?

उत्तर- ठंडे मौसम में पानी का ताप गिर जाता है, जिससे पाइप में पानी जमने लगता है जिससे उसका आयतन बढ़ जाता | है तथा बर्फ अपने आयतन के अनुसार स्थान ग्रहण करना चाहती है, अतः बर्फ के दाब से पाइप फट जाता है.

 

Leave a Reply