देखें PHOTOS: बिहार की बाढ़ में कैसे आग लगा रही है ये मॉडल, सोशल मीडिया पर मचा रहा है धूम

0
1
Aditi Singh

देखें PHOTOS: बिहार की बाढ़ में कैसे आग लगा रही है ये मॉडल, सोशल मीडिया पर मचा रहा है धूम

पटना. बिहार (Bihar) में भारी बारिश से जन जीवन अस्त व्यस्त है, राजधानी पटना समेत बिहार के अन्य जिलों में जलजमाव है. इसी बीच पटना की सड़कों पर जलजमाव की तस्वीर दिखाने के लिए निफ्ट पटना की एक स्टूडेंट अदिति सिंह ने एक खास तरीका अपनाया.

 

अदिति ने पटना की सड़कों पर जलजमाव के बीच अपना फोटो और वीडियो शूट कराया. इस शूट को उन्होंने सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया.

सोशल मीडिया पर अदिति के इस खास अंदाज को लोग काफी पसंद कर रहे हैं. उनके इस वीडियो और फोटोज को खूब लाइक और शेयर मिले हैं.

जलजमाव के बीच इस पूरे फोटो और वीडियो शूट को पटना के ही रहने वाले सौरभ अनुराज ने शूट किया है. इस शूट के बारे सौरभ ने बताया कि इसके पीछे हमारा उद्देश्य था कि हम पटना की सड़कों पर जलजमाव को एक अलग अंदाज में दिखाएं ताकि लोग यहां जलजमाव के बीच फंसे लोगों की मदद करें.

हमने इसमें दिखाया कि पटना में कोई ऐसी जगह नहीं है जहां पानी नहीं जमा है. इस पूरे शूट को पटना में ही किया गया है.

पटना के बोरिंग रोड, नागेश्वर कॉलोनी और एसके पूरी इलाके में पूरा शूट किया गया है.

अदिति निफ्ट में फर्स्ट ईयर की स्टूडेंट है और उससे पहले वो मॉडल रह चुकी है.

पटना में भारी बारिश का कहर जारी है, जहां तीन दिनों से जारी अभूतपूर्व बाढ़ ने घरों और अस्पतालों में पानी भर दिया है, जिससे हजारों लोगों की जान पर बन आई है। राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल की तीन टीमों को शहर में तैनात किया गया है और अधिक बचाव दल के दिन में बाद में पहुंचने की उम्मीद है। बचाव अभियान के लिए नावें सड़कों पर हैं। बिहार में पटना में चार सहित 13 लोगों की मौत हो गई है, क्योंकि पिछले तीन दिनों में कई जिलों में भारी बारिश हुई। पटना और अन्य जिलों के लिए “भारी से बहुत भारी वर्षा” की संभावना का संकेत देते हुए एक रेड अलर्ट जारी किया गया है। मौसम कार्यालय ने 30 सितंबर तक राज्य की राजधानी में भारी वर्षा की भविष्यवाणी की है। नालंदा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल सहित कई सरकारी अस्पताल, जो पटना के सबसे बड़े अस्पतालों में से एक हैं, में बाढ़ आ गई है। सोशल मीडिया पर साझा किए गए वीडियो में अस्पताल के कमरों में पानी भर रहे मरीजों को दिखाया गया है। लोगों को निकालने के लिए शहर के बाढ़ वाले हिस्सों में 32 नावों को सेवा में लगाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here